Humdard _#1

Episode #1

बंद कमरे से रोने और चीखने चिल्लाने की आवाज़ आ रही थी । कमरे के बहार हॉल में 11 साल की बच्ची जिसका नाम रिया खुराना था वह अपने हाथ मे गुड़िया लिए खड़ी थीं। उसने गुड़िया को कसकर पकड़ा हुआ था । उसके चेहरे पर डर ने अपना घर बना रखा था । वह जानती थी कि उस बंद दरवाजे के अंदर क्या हो रहा होगा । वह कमरे की तरफ डरते डरते आगे बढ़ी जैसे जैसे वह कमरे के पास आ रही थी वैसे वैसे उसे आवाज़ तेज और साफ सुनाई दे रही थी । उसने बड़ी हिम्मत करके बंद कमरे का दरवाजा खोला तो उसने देखा कि उसके पिता सुनील हाथ में पट्टा लिये हुए है और उसकी माँ ममता फर्श पर गिरी हुई है । तभी सुनील ने ममता पर पट्टे से वार किया यह देखकर वह मासूम सी बच्ची के मुह से ” मम्मी “निकल गया । यह आवाज़ सुनकर सुनील रुक गया और उसने अपनी बेटी की तरफ देखा । ममता भी अपनी बच्ची को वहां पर देखकर उसके पास दौड़ी चली आई और मुस्कुराते हुए बोली-

” बेटा आप अभी तक सोये नही कल स्कूल है ना जाओ आप सो जाओ । ”

ममता के चेहरे पर घाव के निशान थे और आँख भी सूजी हुई थी और उसकी आँखों से आंसू बह रहे थे । वो अपनी माँ के आंसू पोछते हुए बोली-

“पापा ने आपको मारा ना ? पापा बहोत गंदे है ।”

सुनील ने चिल्लाते हुए रिया को बाहर जाने को कहा पर रिया अपनी माँ को छोड़कर नही जाना चाहती थी और उस ने मना कर दिया । यह देखकर सुनील को बहोत गुस्सा आया और वह रिया की तरफ बढ़ा । ममता ने अपनी बेटी को बचाने के लिए बीच में आई तो सुनील ने उसे धक्का देकर फर्श पर गिरा दिया और रिया को कमरे से बहार निकाल कर दरवाजा बंद कर दिया । वह मासूम अपनी माँ के पास जाने के लिए तड़पती रही उछलती रही पर सुनील ने दरवाजा नही खोला और ममता को पिटता रहा और वह बच्ची मम्मी को मत मारो कहते हुए दरवाज़े पर ही रोती रही और उसी दरवाज़े पर ही कब जाने सो गई । ममता जब आधी रात को बाहर आई और उसने अपनी बच्ची को उसी दरवाज़े पर देखा तो उसे उठाकर रिया के कमरे मे ले गई ।

सुनील और ममता ने लव मैरिज की थी । सुनील का अपना बिजनेस था । शादी के 5 साल सब ठीक चला पर बाद में बिजनेस मैं लॉस होने की वजह से सुनील की कंपनी दिवालिया घोषित हो गई । तब से उसके अंदर कई बदलाव आने लगे जिनमे शराब पीना भी शामिल था । वह रोज रात को शराब पीकर आता और अपनी बीवी ममता को पिटता और अपनी नाकामयाबी का गुस्सा उतारता । और ममता अपनी बेटी और सुनील से अधिक प्यार के कारण चुपचाप सहती रहती। ममता ने अपनी बच्ची को बेड पर सुलाया और उसका सर चुम्मकर वह टेबल के पास गई और उसने डोअर खोलकर उसमें से गन निकाली । तभी रिया जाग गई उसने अपनी माँ के हाथ मे गन देखी पर वह कुछ कह पाती उससे पहले ही ममता ने अपने सर पर गन रखी और आई लव यू सुनील कहकर ट्रिगर दबा दिया और रिया मम्मी चिल्लाते हुए जाग गई । इस घटना को 10 साल हो चुके थे पर आज भी यह हक़ीकत सपना बनकर रिया को सोने नही देती थी इस लिये वह हर रात सोने के लिए नींद की गोलियां लेती थी । उसने पास वाली टेबल पर से नींद की गोलियां उठाई और पानी के लिया ग्लास लिया तो ग्लास खाली था । वह पानी भरने के लिए जग उठाकर कमरे से बहार गई ।

रिया खुराना अपनी माँ के आत्महत्या करने के बाद अपनी नानी के यहां पली बढ़ी । माँ की मौत ने रिया के जीवन को बदलकर रख दिया था । उसे जिन्दगी और मोहब्बत से नफरत सी हो गई थी इस लिए उसका कोई दोस्त नही था और न ही नानी के अलावा कोई अपना कहने वाला था । हाल मैं वह मुम्बई के किसी यूनिवर्सिटी मैं एम.बी.ए कर रही है और वही की गर्ल्स हॉस्टल में रह रही थी ।

रिया पानी भरने हॉल मैं पहोंची तो उसने देखा सीढ़ियों पर उसकी सहेली निधि थी ( पूरी यूनिवर्सिटी में यही रिया की एकमात्र दोस्त थी ) और बार बार वह किसी को फोन करने की कोशिश कर रही थी । रिया ने अपनी घड़ी में देखा तो रात के 1:30 बज रहे थे । वह निधि के पास गई । निधि फ़ोन लगाने की कोशिश में इतनी व्यस्त थी कि रिया की मौजूदगी का उसे ख्याल भी नही था तभी रिया ने कहा –

” हे निधि ( निधि ने रिया की तरफ देखा ) इतनी रात को तू यहा क्या कर रही है? और किसे फ़ोन कर रहीं थी? ”

“तुम कब यहां आई ? ” निधि ने सवालो के जवाब देने के बदले सामने सवाल किया ।

“बस पानी भरने आई थी तो तुजे देखा तो यहाँ चली आई , ओर तूने मेरे सवालो का जवाब नही दिया? । ”

” कुछ नही बस यूं ही नींद नही आ रही थी तो बस बहार घूमने निकली हूँ ।”

रिया ने उसे गौर से देखा तो निधि की आँखे सूजी हुई थी मानो वह घंटे भर रोई थी । रिया ने कहा –

” जुठ मत बोल तेरी आँखे सबकुछ बया कर रही है क्या हुआ है जिसके कारण तू रो रही थी ?”

निधि ने बात टालने की कोशिश की पर रिया के सामने एक न चली आखिर में निधि ने मुह खोला –

” राज और मेरा ब्रेकअप हो गया है ,पता नही क्यों 5 दिन से वो मेरे कोई भी कॉल का जवाब नही दे रहा में उससे मिलने भी गई थी पर मिलना तो दूर उसने दरवाजा तक नही खोला । घंटो भर में दरवाजे पर रोती रही पर उसने एकबार भी दरवाजा खोलकर नही देखा ।”

यह कहकर वह रो पड़ी । रिया ने उसे रोते देख चुप कराने के बदले कहा –

” यह तो होना ही था । प्यार एक बीमारी है जिसे अक्सर लोग खुदा का घर मान लेते है ( निधि ने उसके तरफ घूरते हुए देखा ) । इस तरह मत देख सही कह रही हु । यह प्यार मोहब्बत , जीने मरने की कसमें , सात जन्मों का साथ , यह सब फिल्मो और कहानियों मैं ही अच्छा लगता है असल जिंदगी मैं बस यह एक फैंटसी है जिसका हकीकत से कोई लेना देना नही है , यह बस लोगो को बर्बाद करता है । ”

“नही रिया प्यार होता है , प्यार ही इंसान को इंसान बनाए रखता है , प्यार के बिना जिंदगी अधूरी है । ”

रिया ने उसकी बात काटते हुए कहा –

“ओ प्यार की कबूतर , हिंदी फिल्में ज्यादा देखना बन्द कर । तेरा प्यार भूख और प्यास नही मिटा सकता , प्यार के बिना भी जिंदगी है . अच्छा एक बात बता – तेरे और राज के बीच सेक्स हो चुका है ?”

यह सुनकर निधि झेपसी गई और नजर चुराने लगी । रिया ने उसके चेहरे को पढ़ लिया और आगे बोली –

“अक्सर कुछ लोग जिस्म की भूख को प्यार का नाम दे देते है ।भूख खत्म तो प्यार भी खत्म हो ही जाता है । राज की भी भुख मिट चुकी है ओर इसी लिए उसका भी प्यार तेरे लिए खत्म हो चुका है । देख इन सारी जूठी चीजो में अपनी जिंदगी बर्बाद न कर और अपनी जिंदगी सवार कुछ बन जा। यह प्यार सिर्फ जान लेता है , जैसे मेरी मम्मी की जान” आगे शब्द उसके हलक में ही रह गये आगे वह कुछ न बोली और वहा से चली गई और निधी उसे जाते हुए देखती रही ।

( क्रमशः ). To be continued…..

हेलो दोस्तों कैसा लगा आपको यह पहला एपिसोड यह मुझे कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं और क्या आप इसका दूसरा एपिसोड पढ़ना चाहते है यह भी कमेंट के माध्यम से बताएगा यह थी हमारी कहानी की नायिका जिसके सीने मैं कोई दिल ही नही है पर मोहब्बत ने इसे चुना है तो कैसी होगी बिना दिल की लड़की की प्रेम कहानी जानने के लिए पढियेगा जरूर हमदर्द एपिसोड -2 और इसे लाइक और शेयर जरूर कीजियेगा।

Aryan suvada

17 thoughts on “Humdard _#1

  1. खूबसूरत कहानी।बालपन में जो दिल मे बैठ जाता है जल्दी नहीं मिटता।और जब कोई मिलता जुलता घटना समीप दिखता है तब सब कुछ आंखों के सामने नाच जाता है।बहुत बढ़िया।

    1. बिलकुल सही कहा आपने बचपन में जो दिल में बैठ जाता है वो जिन्दगी भर याद रहता है उसे अगर हम भूलना भी चाहे तो भी नही भूल पाते है।

Leave A Comment